यु टी  के हजारों र्कमचारीयों तथा मजदूर  ने नगर निगम के सामने की रोष रैली 

 

प्रीतिं धारा/डी. डी. भारती।

चंडीगढ़----गवर्नर हाउस्को  कूच करने से पहले ही एसडीएम सैंट्रल पहुंचा रैली सथान पर ....  नेताओं ने की मांग आउट सोर्सेड वर्करों का आर्थिक शोषण बंद हो.. बने सिक्योर्ड पॉलिसी....  बड़ी हुई  महंगाई दर के अनुसार  रिवाइज हो डीसी रेट्स...
अगर प्रशाशन ने बात नही सुनी तो  21 सितंबर  को गवर्नर हाउस के  सामने फ्रंट की लीडरशिप  मुंह पर सफेद पट्टी बांध करेगी मुन  प्रदर्शन-------   
 चंडीगढ़ के र्कमचारीयों तथा मजदूरों की मांगो के प्रति प्रति  चंडीगढ़ प्रशासन की  गैर संजीदा पहुंच के खिलाफ यूनाइटेड फ्रंट ऑफ मास ऑर्गेनाइजेशनस चंडीगढ़ के बैनर तले अपनी मांगो को लेकर हजारों मजदूरो मुलाजिमों ने  गवर्नर हाउस  को कूच  करने से पहले ही एसडीएम सैंट्रल तेजदीप सिंह सैनी ने  रैली सथान पर पहुंच कर मुलाजिमों से मांग पत्र  रिसीव किया और अशुवाषन दिया के प्रशासन जल्द ही मांगो पर बात करेगा
इस प्रदर्शन में चंडीगढ़ के अलग अलग विभागों के सभी र्कमचारीयों के इलावा प्राइवेट सैक्टर के मजदूरों तथा ऑटो रिक्शा चालकों ने भी हिसा लिया।  नगर निगम चंडीगढ़ के दफ्तर के पास  विशाल रैली को  युनाइटेड फरंट आफ मास आरगेनाईजेशनज के, प्रधान शयाम लाल घावरी, महासचिव राकेश कुमार, चेयरमैन सतिंदर सिंह तथा कनवीनर शीशपाल ने  संबोधन करते  हुई
 कहा कि एक तरफ प्रशाशन मजदूरों मुलाजिमों की प्रमुख मांगो का कोई हल नहीं कर रहा और दूसरी तरफ बात भी करने  को तयार नही है इस लिए जब तक  चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा धार 144  को खतम करके नागरिक अधिकारों को बहाल नही किया जाता,आउट सोर्सेड वर्करों के लिए सिक्योर्ड पॉलिसी नहीं बनाई जाती,चंडीगढ़ की सफाई विवस्था और अन्य सरकारी विभागों को निजी कंपनियों के हाथो में  देने के फैसले को वापिस  नहीं   लिया जाता,  रिटायर्ड र्कमचारीयों को उनके बनते पेंशनरी लाभ जल्दी नही दिये जाते, 31.12.96 के बाद भरती किए गए डेली वेज वर्करों को 13.3.15 की पॉलिसी में बदलाव करके रैगुलर नहीं  किया जाता ,सेल्फ फाइनेंस हाउसिंग स्कीम के लाभ पातरों को पुराने रेट पर मकान अलाट नहीं किये जाते, चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के र्कमचारीयों के लिए पैंशन योजना लागू नहीं की जाती और 
चंडीगढ़ प्रशासन आउट सोर्स्ड वर्करों के हो रहेआर्थिक शोषण को नहीं  रोकता,सीटीयू में 417 बसें पुरी नहीं होती और रुका हुआ 41 बसो का टैंडर पास नहीं किया जाता,रैगुलर खाली पढी पोसटों को  भरा नहीं जाता,स्वीरमैनो, फायरमैनों तथा बिजली  वर्करों का बीमा नहीं किया
 जाता,  जन तक गावों से नगर निगम में आए सफाई कर्मचारियों को बेसिक प्लसडीए नही दिया जाता,ऑटो रिक्शा चालकों की समस्यो  का हल  नहीं किया जाता, मिनीमम वेज तथा डीसी रेट्स महगई के अकड़े अनुसार नही बड़ाए जाते, ननगर निगम के मुलाजिमों की कलाई पर स्मार्ट घड़ियें लगाने का फैसला वापिस नही लिया जाता तथा मृतक के आश्रित को नौकरी नहीं दी जाती तब तक संघर्ष जारी रहेगा।
 उन्हों ने जे  भी घोषणा  की के अगर प्रशाशन मुलाजिमों की बात  नहीं सुनता तो फ्रंट  की सारी लीडरशिप 21 सितंबर को गवर्नर हाउस  के सामने  मून प्रदर्शन करेगी।
आज के प्रदर्शन में 
सीवर्ज एंप्लॉयस यूनियन के प्रधान और फ्रंट के वाइस चेयरमैन सुरेश कुमार, कोऑर्डिनेशन कमेटी ऑफ गवर्नमेंट एंड एमसी एम्पलॉइज एंड वर्कर्स यूटी चंडीगढ़ के चेयरमैन  और सीएमसी हॉर्टिकल्चर एंप्लॉयज यूनियन के प्रधान अनिल कुमार,  इलेक्ट्रिकल वर्कमैन यूनियन के प्रधान किशोरी लाल,  इलेक्ट्रिसिटी स्ट्रीट लाइट  एंप्लॉयज एंड वर्कर्स  यूनियन के महासचिव दलजीत सिंह,  फ्रंट के ऑफिस सेक्रेटरी रणजीत सिंह ,डोर टू डोर वेस्ट कलेक्शन सोसायटी के प्रधान विनोद लौट और दिलबाग टांक, सीटीयू कंडक्टर यूनियन के प्रधान दविंदर सिंह और गुरमेल सिंह दारा,एम ओ एच सफाई कर्मचारी यूनियन के महासचिव सतीश गहलौत, पैक एंप्लॉयस यूनियन के प्रधान हरी मोहन, ट्राई सिटी ऑटो रिक्शा वर्कर्स यूनियन के प्रधान अनिल कुमार,  अखल भारतीय सफाई मजदूर संग के महा सचिव धर्मपाल गहलोत, मैकेनिकल वरकरज युनीयन  के प्रधान माइकल, चंडीगढ़ रिटायर्ड एंप्लॉयस फ्रंट के कन्वीनर रामफल, डा . अंबेडकर एससी बीसी वेलफेयर एसोसिएशन के महा सचिव डा.धर्मेंद्र, जीएमएसएच सैक्टर 16 से  उषा रानी, मदन कुमार और सोनू खोसला, डा.अंबेडकर शिक्षा संस्थान संगठन के प्रधान सतीश मचल, यूनाइटेड फ्रंट पब्लिक हेल्थ एंप्लॉयरस यूनियन से चरणजीत सिंह और रघुवीर सिंह, फॉरेस्ट  विभाग से छोटे लाल, स्पोर्ट्स विभाग से मामराज, आरके तिवारी और राजेश कुमार,  फायर विभाग से संजीव शर्मा,इंजीनियरिंग विभाग से वीर सिंह आदि  ने संबोधन  करते चंडीगढ़ प्रशासन के मुलाजिमों की मांगो के प्रति गैर संजीदा पहुंच की सख्त निंदा की तथा मांग की के प्रशासन जल्द मांगो। का हल निकाले।

#news #hindi #hindinews #newsinhindi #upnews #indianews #politics #DDBharati #DDBharatinews #Indiannews #newsdaily #khabar #tazakhabar #India #rajasthan #gujarat #newspaper #magzine #currentaffairs


No Of View On This News: