डॉ लाल थदानी को अंतरराष्ट्रीय काव्य रत्न सम्मान  15 मई को दिल्ली में

 

अजमेर ।
अंतरराष्ट्रीय शब्द सृजन के बैनर तले 15 मई को हिंदी भवन दिल्ली में  अंतरराष्ट्रीय काव्य ग्रन्थ 'भारत के भारत रत्न' का भव्य लोकार्पण समारोह में  कालजयी
ग्रन्थ के सहभागी रचनाकार कवि  राजस्थान सिन्धी अकादमी के पूर्व अध्यक्ष डॉ लाल थदानी को अंतरराष्ट्रीय काव्य रत्न सम्मान से अलंकृत किया जाएगा।

देश विदेश से अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त साहित्यिक सामाजिक एवं राजनैतिक  अतिथियों की उपस्थिति में
काव्य ग्रन्थ 'भारत के भारत रत्न' का लोकार्पण होगा ।
 इसका सम्पादन  एवं संकलन की भूमिका अंतरराष्ट्रीय शब्द सृजन के अध्यक्ष  डॉ राजीव कुमार पाण्डेय एवं महासचिव ओंकार त्रिपाठी  ने निभाई है ।
देश के लब्ध प्रतिष्ठित  निकष प्रकाशन दिल्ली ने इसे प्रकाशित किया है। 

अंतर्राष्ट्रीय शब्द सृजन संस्था द्वारा भारत रत्न अंतरराष्ट्रीय  
काव्य महोत्सव  गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है जिसमें 301 कवियों ने भारत रत्न विजेताओं पर   सृजित कविताओं को देश विदेश के 301 कवियों द्वारा बारह घण्टों में ऑनलाइन लाइव काव्य पाठ कराकर इतिहास  बनाया है।अजमेर से राजस्थान सिंधी अकादमी के पूर्व अध्यक्ष डॉ लाल थदानी ने गत वर्ष माह नवंबर में  सितार वादक पंडित रविशंकर पर काव्य पाठ किया था ।  देश विदेश के चयनित  215 कवियों की रचनाओं को काव्य ग्रंथ में स्थान दिया गया है  । 

देश के जाने माने मूर्धन्य साहित्यकार पद्मश्री डॉ श्याम सिंह शशि,  भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय में हिंदी के सलाहकार डॉ हरि सिंह पाल, हिंदी अकादमी दिल्ली के सचिव डॉ जीतन राम भट्ट, राष्ट्रीय चिंतक और सुदर्शन न्यूज़ के सी ई ओ सुरेश चव्हाणके, देश की जानी मानी वरिष्ठ कवयित्री डॉ इंदिरा मोहन विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित रहेंगे ।

डॉ  लाल थदानी, वरिष्ठ जन स्वास्थ्य विशेषज्ञ
चिकित्सक के साथ-साथ संगीत और साहित्य में उल्लेखनीय उपस्थिति दर्ज़ की है । उन्हें कोरोना वॉरियर्स के रूप में जिला प्रशासन और नगर निगम अजमेर को गत वर्ष सार्वजनिक अभिनंदन किया गया तथा चिकित्सा और समाज सेवा क्षेत्र में विजय श्री अवार्ड रेड एंड व्हाइट ब्रेवरी अवार्ड तथा मदर टेरेसा समाज सेवा अवार्ड,  प्रशासन और राज्य सरकार अंतरराष्ट्रीय साहित्य परिषद स्टोरी मिरर अजय मेरु प्रेस क्लब, अजमेर लेखिका मंच, मां शकुंतला देवी साहित्य मंच द्वारा अनेकों बार सम्मानित किए जा चुके हैं । उनकी अंग्रेजी, हिन्दी और विभिन्न साहित्यिक मंचों पर  #अल्फ़ाज़_दिलसे पर करीब 300 से ऊपर ग़ज़लें और कविताएं तथा डेली कोट्स 700 से ऊपर लिख चुके हैं । अखबारों में 40 से ऊपर चिकित्सा / सामाजिक बिंदुओं पर लेख प्रकाशित हुए हैं । अमर उजाला "काव्य" में डॉ लाल थदानी की 43 कविताएं  प्रकाशित हुई है । स्टार मेकर पर दो IDs पर 400 से ऊपर गाने हैं । कोरोना पर "चल अकेला" की धुन पर  लिखा और गाया तथा " कब तक अंधेरे मन को छलेंगे" बेहद लोकप्रिय गानों में है ।  बेटी की विदाई पर इनका खुद का लिखा और गाया " लाडली मेरी लाडली " यू ट्यूब पर है ।  

डा. लाल थदानी वर्तमान में प्रिंसिपल चीफ मेडिकल ऑफिसर पुलिस लाइन डिस्पेंसरी अजमेर में कार्यरत है ।
इससे पूर्व उप मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी पद पर 2008 से 2017, संयुक्त निदेशक मुख्यालय जयपुर 2020, उप अधीक्षक जेएलएन हॉस्पिटल 2020-21 पदस्थापित रहे ।
 

#news #hindi #hindinews #newsinhindi #upnews #indianews #politics #DDBharati #DDBharatinews #Indiannews #newsdaily #khabar #tazakhabar #India #rajasthan #gujarat #newspaper #magzine #currentaffairs


No Of View On This News: